तेरी मेरी मुलाकात देख हवा में भी नमी सी है क्षण भर का रहा साथ अब फिर तेरी कमी सी है - Srishti Garg ( क़तरा ) Photograph by Alwina Kathuria.

Advertisements

Melancholy

Melancholy is, The warmth of the quilt moving into the winter, Like children moving into adulthood. The warmth of her eyes, now laden with doubt and fear. Post springtime; the barren branches of the fallen flowers. A native land, bleak and bland renders a broken heart. A parting kiss to the solitary sea and a … Continue reading Melancholy

धूल

एक अलग बात होती है उन कमरों में जो काफ़ी समय बाद खोले जाते हैं एक भीनी महक होती है उनमें कुछ अलग सी समझा भी नहीं सकती और धूल की एक पतली चादर से ढ़के मिलते हैं खोलने पर बिलकुल उस दिल की तरह जो अरसों बाद खुला हो। - Srishti Garg ( क़तरा … Continue reading धूल